Warning: Private methods cannot be final as they are never overridden by other classes in /var/www/wp-content/plugins/wp-rocket.3.4.4/inc/classes/Buffer/class-cache.php on line 395

Warning: Private methods cannot be final as they are never overridden by other classes in /var/www/wp-content/plugins/wp-rocket.3.4.4/inc/classes/traits/trait-memoize.php on line 87
पाकिस्तान में महिला पत्रकार की पिटाई, स्कूल मालिक समेत 3 संदिग्ध गिरफ्तार, सरकार के जांच के आदेश - JASUS007

पाकिस्तान में महिला पत्रकार की पिटाई, स्कूल मालिक समेत 3 संदिग्ध गिरफ्तार, सरकार के जांच के आदेश

पाकिस्तान में एक महिला पत्रकार की पिटाई की गई है. इस घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होते ही पुलिस ने कार्रवाई की है. स्कूल के मालिक समेत तीन संदिग्धों को गिरफ्तार किया गया है. इस मामले में कार्रवाई करते हुए सिंध के गृह मंत्री जियाउल हसन लंजर ने मंत्री मुहम्मद अली को संबंधित अधिकारियों से जांच रिपोर्ट मांगने का आदेश दिया है.

सिंध प्रांत के कोरंगी इलाके के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (एसएसपी) हसन सरदार खान को भी मारपीट मामले की जांच कर जल्द से जल्द रिपोर्ट सौंपने के निर्देश मिले हैं. आपको बता दें कि कराची में 10वीं कक्षा की परीक्षा में कदाचार का मामला सामने आया है. मुखबिर से मिली सूचना के बाद जांच करने पहुंची महिला पत्रकार के साथ दबंगों ने एकजुट होकर मारपीट की।

विद्यालयों में अनियमितता एवं अव्यवस्था

एआरवाई की रिपोर्ट के मुताबिक, वायरल वीडियो में साफ दिख रहा है कि कैसे भीड़ एक महिला पत्रकार की पिटाई कर रही है। यह घटना कोरांगी के एक स्कूल में घटी. दरअसल, कराची के स्कूलों में मैट्रिक की परीक्षाएं चल रही हैं, लेकिन नकल और अन्य गड़बड़ियों की शिकायतें मिलती रहती हैं.

स्कूलों में फर्नीचर की कमी को लेकर छात्रों ने शिक्षा विभाग से भी शिकायत की है. परीक्षा शुरू होने से पहले ही पेपर लीक की खबर आ गई. बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन कराची (BSEK) ने कुछ दिन पहले कक्षा 9 और 10 की वार्षिक परीक्षाएं आयोजित कीं। इस दौरान छात्रों ने शिकायत की कि गर्मी में बिजली गुल होने के कारण उन्हें पेपर देना पड़ा. एक महिला पत्रकार को शिकायतों की भनक लग गई और उसने जांच शुरू कर दी।

पाकिस्तान के सांसद ने शिक्षा के स्तर पर एक पोल खेला

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, पाकिस्तान के सांसद सैयद मुस्तफा कमाल ने हाल ही में देश की संसद को संबोधित किया। इस भाषण में उन्होंने देश की शिक्षा व्यवस्था की पोल खोल दी. उन्होंने एक रिपोर्ट का हवाला देते हुए कहा कि अकेले सिंध प्रांत में 70 लाख बच्चे स्कूल नहीं जाते हैं. देशभर में 2.62 करोड़ बच्चे स्कूली शिक्षा से वंचित हैं। राष्ट्रीय एवं राज्य सरकारें सो रही हैं। उन्हें रिपोर्ट के आंकड़ों की परवाह नहीं है.