Vat Savitri Vrat 2024: पहली बार रख रही हैं वट सावित्री व्रत? जानें किस रंग के पहनें कपड़े, किन बातों का रखें विशेष ध्यान

हिंदू धर्म में वट सावित्री व्रत को बहुत महत्वपूर्ण माना जाता है और इस त्योहार में मुख्य रूप से बेंथम वृक्ष की पूजा की जाती है और इस वृक्ष की परिक्रमा भी की जाती है। वट सावित्री व्रत हर साल ज्येष्ठ माह की अमावस्या तिथि को मनाया जाता है। इस बार अमावस्या तिथि 6 जून यानी आज आ रही है इसलिए इस दिन वट सावित्री व्रत रखा जाता है। वट सावित्री व्रत करने से महिलाओं की हर मनोकामना पूरी होती है और उन्हें सौभाग्य की प्राप्ति होती है। लेकिन अगर आप वट सावित्री व्रत पहली बार कर रहे हैं तो आपको कुछ खास बातों का ध्यान रखना होगा। आइए दिल्ली निवासी ज्योतिषी पंडित आलोक पंड्या से जानें क्या हैं वो बातें?

माता सावित्री ने व्रत रखा

मान्यताओं के अनुसार इसी दिन माता सावित्री ने व्रत रखकर यमराज से अपने पति के प्राण वापस लिये थे। तभी से सभी विवाहित महिलाएं अपने पति की लंबी उम्र के लिए यह व्रत रखती हैं।

वट सावित्री व्रत के दिन पूजा के दौरान पहनें ये रंग

अगर आप पहली बार वट सावित्री व्रत कर रहे हैं तो इस बात का विशेष ध्यान रखें कि पूजा करते समय काले, नीले या गहरे रंग के कपड़े न पहनें। मुख्य रूप से आप लाल, पीला, हरा, केसरिया या गुलाबी रंग के कपड़े पहन सकते हैं। आप इनके साथ मिश्रित रंग भी पहन सकते हैं क्योंकि ये रंग सकारात्मकता से भरे होते हैं।

वट सावित्री पूजा के दौरान सोलह श्रृंगार करें

अगर आपकी शादी को कुछ समय हो गया है और आप पहली बार वट सावित्री व्रत करने जा रहे हैं, तो आपको सोलह श्रृंगार करके पूजा करनी चाहिए क्योंकि हर विवाहित महिला को पूजा के दौरान हमेशा सोलह श्रृंगार करना चाहिए।

बरगद की शाखाएँ या पत्ते न तोड़ें

वट सावित्री व्रत के दौरान बरगद के पेड़ की पूजा की जाती है और इसका महत्व भी है। ऐसे में आपको इस दिन बरगद की शाखाएं या पत्ते नहीं तोड़ने चाहिए क्योंकि अगर आप ऐसा करते हैं तो आपकी पूजा स्वीकार नहीं होगी और आपको दोष भी लग सकता है.

बरगद के पेड़ की ठीक परिक्रमा करें

वाद परिक्रमा सही दिशा में करनी चाहिए यानी परिक्रमा हमेशा दक्षिणावर्त दिशा में करनी चाहिए। इस दिन आपको बरगद के पेड़ की 7 बार परिक्रमा करनी चाहिए और 7 बार ही धागा लपेटना चाहिए। भूलकर भी विपरीत दिशा में न मुड़ें. अन्यथा यह नकारात्मक परिणाम ला सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *