पैसो के लिये झूठ : अमितभ बच्चन ,अक्षय कुमर , करिना , रितिक पर लगे ये आरोप ! ASCI ने कि आलोचना

Advertisement
Advertisement

मुंबई : एडवरटाइजिंग स्‍टैंडर्ड्स काउंसिल ऑफ इंडिया’ (ASCI) ये एक ऐसि संस्था हे जिस पर TV पर दिखाई देने वले विग्नापन को चेक करती हे ! इस बिच अभिनेता अमिताभ बच्चन, अक्शय कुमर, ऋतिक रोशन, करीना कपूर और बैडमिंटन खिलाड़ी साइना नेहवाल के खिलाफ अलोच्न कि हे ! एडवरटाइजिंग स्‍टैंडर्ड्स काउंसिल ऑफ इंडिया का मान ना हे कि ब्रांड ने जो विज्ञापन में दावा किया वो बिल्कुल गलत ओर निराधार हे !

 

Ads Featuring Kareena Kapoor, Amitabh Bachchan, Akshay Kumar Face ...

इन विज्ञापन कि जाच कि !

डवरटाइजिंग स्‍टैंडर्ड्स काउंसिल ऑफ इंडिया ने फरवरी 2020 में 279 विज्ञापनों की जांच की, जिसमें विज्ञापनदाताओं द्वाराडवरटाइजिंग स्‍टैंडर्ड्स काउंसिल ऑफ इंडिया’ (ASCI) के साथ संवाद करने के बाद 101 विज्ञापन वापस ले लिए गए। जिस्मे अभिनेता अमिताभ बच्चन, अक्शय कुमर, ऋतिक रोशन, करीना कपूर और बैडमिंटन खिलाड़ी साइना नेहवाल के विज्ञापन समिल हे !

Amitabh Bachchan, Akshay Kumar, Kareena accused of spreading ...

एडवरटाइजिंग स्‍टैंडर्ड्स काउंसिल ऑफ इंडिया’ (ASCI) के अनुसार इन सेलेब्रेतियो ने विज्ञापन करने से पहले ब्रांड के दावों की जांच नहीं की।एडवरटाइजिंग स्‍टैंडर्ड्स काउंसिल ऑफ इंडिया’ (ASCI) ने कहा कि ब्रांड साबित नहीं कर पाये कि इन हस्तियों ने उत्पाद की घोषणा करने से पहले इसकी जांच की HOGI । एडवरटाइजिंग स्‍टैंडर्ड्स काउंसिल ऑफ इंडिया’ (ASCI) ने कहा कि अमिताभ बच्चन ने कदम के आवेदन की घोषणा करने में नियम की अनदेखी की है। इसमें झूठे दावे शामिल थे।

 

वहि करिना कपुर एक विज्ञापन मे नजर आयि ओर कह कि इंदिरा आईवीएफ अस्पताल देश का सबसे बड़ा और सबसे सफल आईवीएफ केंद्र है। लेकिन ये गलत हे ! जबकि रितिक रोशन को जॉली तुलसी 51 बूंदों की बीमारी को रोकने में मददगार होता हे लेकिन ऐसा कुछ नहि ।

Jasus is a Masters in Business Administration by education. After completing her post-graduation, Jasus jumped the journalism bandwagon as a freelance journalist. Soon after that he landed a job of reporter and has been climbing the news industry ladder ever since to reach the post of editor at Our JASUS 007 News.

Comments are closed.