अस्तित्व पर खतरा आया तो बनाएंगे परमाणु बम…’ ईरान बोला- हम सिद्धांत बदल सकते हैं

ईरान ने शनिवार को एक बड़ा बयान देकर सभी को चौंका दिया. उन्होंने कहा कि अगर उनके अस्तित्व पर खतरा मंडराया तो वह इससे निपटने के लिए अपनी तैयारी मजबूत करेंगे और परमाणु बम विकसित करेंगे। ईरान के सुप्रीम लीडर खामनेई के सलाहकार कमाल खर्राझी ने यह बयान दिया है. खराराजी ने कहा कि अभी तक हमें इसकी जरूरत महसूस नहीं हुई है लेकिन अगर हमें खतरा महसूस होता है तो हम अपने बुनियादी सिद्धांतों को बदल सकते हैं।

खर्राजी ने यह बयान ऐसे समय में दिया है जब कुछ दिन पहले ही इजराइल ने ईरान के कई शहरों पर हमला किया था. हालाँकि, इन हमलों में कोई हताहत नहीं हुआ। इजराइल ने यह हमला ईरान के मिसाइल और ड्रोन हमलों के जवाब में किया. इजराइल ने कहा कि हम अपनी परमाणु सुविधाओं का इस्तेमाल रक्षा के लिए भी कर सकते हैं.

आपको बता दें कि 2003 में ईरान के सर्वोच्च नेता खामेनेई ने परमाणु हथियारों समेत उन सभी हथियारों के उत्पादन पर प्रतिबंध लगा दिया था, जिनसे बड़े पैमाने पर कार्रवाई हो सकती थी। ईरान ने इन पर प्रतिबंध लगाते हुए कहा कि इन्हें बनाना इस्लाम में हराम है. अल जजीरा के मुताबिक ईरान 60 फीसदी तक यूरेनियम संवर्धन कर रहा है. इससे उनकी गुणवत्ता में सुधार हो रहा है.

5 महीने में 12 बम बना सकता है ईरान- UN

जनवरी में संयुक्त राष्ट्र के परमाणु निगरानीकर्ता और विशेषज्ञ अलब्राइट ने कहा था कि ईरान इस समय सबसे बड़ा खतरा है। उसके पास परमाणु बम बनाने की तकनीक है. उनके पास यूरेनियम भी उपलब्ध है. उन्होंने कहा कि ईरान के पास 5 महीने में 12 बम बनाने के लिए पर्याप्त यूरेनियम है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *